tendua%2Bin%2Bgajraula%2Bamroha
यहां पहले भी कई बार तेंदुआ देखे जाने की बात किसानों द्वारा की जा चुकी है.


तेंदुआ देखे जाने की चर्चा के बाद बसैली गांव तथा उसके आसपास के गांवों के ग्रामीणों में भय पसर गया है। एक किसान ने तेंदुआ देखे जाने की बात कही थी। उसके बाद यह आग की तरह फैल गयी। ऐसा इसलिए भी हुआ क्योंकि बसैली में पहले भी कई बार तेंदुआ देखे जाने की बात किसान कर चुके हैं।

13 दिसंबर को भी तेंदुआ गांव में देखा गया था। आस मोहम्मद नामक किसान ने गेंहू के खेत में उसे देखा होने की बात कही थी। वन विभाग की टीम और पुलिस भी गांव पहुंची थी। साथ ही गांव की मस्जिद से गांव वालों को अकेले खेत आदि पर न जाने की सूचना भी दी गयी थी।

पंजों के निशान अब भी मिले हैं, मगर पूरी तरह नहीं कहा जा सकता कि तेंदुआ था। हालांकि ग्रामीण दावा कर रहे हैं कि वह जानवर तेंदुआ ही था।

मंडी धनौरा वन सेंचुरी के रेंजर इकबाल ने बताया कि बसैली में दिखे तेंदए की पुष्टि नहीं हुई है। संभावना जताई जा रही है, मगर जांच टीम की जानकारी के बाद पुष्टि होगी।

ग्रामीण हनीफ अहमद के अनुसार उसने रास्ते में खेत पर तेंदुए को देखा था। वह भयभीत होकर वहां से भाग आया।

गजरौला क्षेत्र के आसपास के गांवों में दहशत का माहौल बना हुआ है।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...