Header Ads

बसैली में तेंदुए का खौफ बरकरार, जागकर कट रही हैं रातें

leopard%2Btendua%2Bin%2Bamroha
गांव वालों का कहना है कि महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों में ज्यादा भय बना हुआ है.


बसैली गांव में तेंदुए ने ग्रमीणों को भयभीत कर रखा है. जंगली जानवर की पुष्टि हालांकि अभी नहीं हुई है. पंजों के निशान के आधार पर यह कहना अभी मुश्किल है कि तेंदुआ है. लेकिन ग्रामीणों में खौफ बढ़ता जा रहा है.

गांव वालों का कहना है कि तेंदुआ है, मगर दावा करने से वे भी बच रहे हैं. वन विभाग लोगों की हर सूचना पर गांव आकर देख रहा है. रेंजर के अनुसार वे जल्द इस बारे में सोच रहे हैं. जो भी जानवर होगा उसका जल्द खुलासा हो जायेगा.

रविवार को भी ग्रामीणों ने किसी जंगली जानवर के होने की बात कही थी. उन्हें खेत के आसपास वह दिखाई दिया था.

पढ़ें : बसैली में दिखे तेंदुए से आसपास के इलाके में भी दहशत

वहीं बीते 13 दिसंबर को भी तेंदुए की चर्चा ने जोर पकड़ा था. गांव की मस्जिद से सूचित किया गया था कि घर से बाहर अकेले न निकलें.

गांव वालों का कहना है कि महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों में ज्यादा भय बना हुआ है. बच्चे तो बाहर जाने से घबरा रहे हैं.

बसैली के आसपास के इलाके में भी लोग चौकस हो गये हैं. कई जगह गुर्राने की आवाजें भी सुनी गयी हैं. खेतों में रोज कहीं न कहीं पंजों के निशान पाये जाने से लोग तेंदुआ होने की बात कर रहे हैं.

वन विभाग की टीम की पुष्टि के बाद स्थिति स्पष्ट होगी.

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...