Header Ads

'किसानों, मजदूरों और शोषितों के पैरोकार थे चौधरी चरण सिंह'

sanjeev%2Blal%2Bbsp
जिस समतामूलक समाज की हम कल्पना करते हैं वह चौ. चरण सिंह द्वारा स्थापित मूल्यों में निहित है.


चौ. चरण सिंह किसी वर्ग या जाति विशेष के नहीं बल्कि उन्होंने पूरे जीवन किसानों, मजदूरों और शोषित समाज के उत्थान के लिए संघर्ष किया। वे संपूर्ण भारतीय समाज, सर्व स्वीकार्य नेता थे। ये उद्गार मंडी धनौरा विधानसभा क्षेत्र के बसपा उम्मीदवार डा. संजीव लाल ने चौ. चरण सिंह के जन्मदिवस पर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए यहां व्यक्त किये।

डा. लाल ने कहा कि देश में जिस समतामूलक समाज की हम सभी कल्पना करते हैं वह स्व. चौ. चरण सिंह द्वारा स्थापित मूल्यों में निहित है। उनके दिखाये रास्ते पर चलने से ही देश प्रगति कर सकता है।

charan%2Bsingh%2Bchaudhary%2Brld

बसपा नेता ने बताया कि उनके पिता स्व. महीलाल दो बार चौ. चरण सिंह के मंत्रीमंडल में रहे जब चौधरी साहब बीकेडी सरकार में मुख्यमंत्री थे।

डा. संजीव लाल के अनुसार दोनों नेताओं में वैचारिक और सैद्धांतिक समानता के कारण ही यह घनिष्ठता थी। यही कारण था कि सहकारिता के क्षेत्र में चौधरी साहब द्वारा किये रचनात्मक बदलाव में बराबर सहभागी बने रहे तथा हर कदम पर उनके साथ रहे।

डा. संजीव लाल ने बताया कि चौधरी साहब के जन्मदिवस पर उन्हें सबसे बड़ी श्रद्धांजलि यही होगी कि हमें उनके विचारों और आदर्शों को जाति-पांति और दूसरी संकीर्ण मानसिकता से ऊपर उठकर समतामूलक समाज के लिए काम करें।

उन्होंने कहा कि बसपा उसी उद्देश्य को लेकर आगे बढ़ रही है तथा जाति व वर्ग विहीन सर्वजन हितकारी, समतामूलक समाज की पक्षधर है।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...