Header Ads

केजरीवाल ने पूछा : राहुल गांधी के पास अगर पीएम मोदी के खिलाफ सबूत हैं तो खुलासा क्यों नहीं करते?

kejriwal%2Brahul%2Bmodi
राहुल गांधी का बयान सियासी गर्मी पैदा कर रहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने पूछा है कि यदि राहुल गांधी के पास पीएम नरेन्द्र मोदी के भ्रष्टाचार के सबूत हैं तो वे संसद के बाहर खुलासा क्यों नहीं करते।

राहुल गांधी ने कहा था कि उनके पास प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पर्सनल करप्शन के दस्तावेज हैं और वे ऐसा करेंगे तो मोदी का गुब्बारा फूटेगा। उससे पहले राहुल ने अपने बोलने से भूकंप आने की बात भी कही थी। सबसे मजेदार यह है कि राहुल बोल रहे हैं और भूकंप नहीं आ रहा। वहीं अब कुछ ट्वीट आ रहे हैं कि राहुल गांधी पीएम मोदी पर भी उसी तरह सबूत देंगे जैसे वह बोलकर भूकंप लाने की बात कर रहे थे।

पढ़ें राहुल गाँधी ने पीएम मोदी के बारे में क्या कहा था :

'मेरे पास मोदी के भ्रष्टाचार की निजि जानकारी, मैं बोलूंगा तो उनका गुब्बारा फूटेगा’


उधर राहुल के पीएम वाले बयान पर अरविन्द केजरीवाल ने ट्वीट किया : 'यदि राहुल गांधी के पास असल में ऐसे कागजात हैं जो मोदीजी की भ्रष्टाचार में निजि लिप्तता साबित करते हों तो वे संसद के बाहर उनका खुलासा क्यों नहीं करते?’

उसके बाद केजरीवाल ने लिखा कि यह दोस्ताना मुकाबला, भाजपा कहती है कि अगस्ता वेस्टलैंड में उनके पास कांग्रेस के खिलाफ सबूत हैं और कांग्रेस कहती है कि सहारा-बिरला मामले में उनके पास भाजपा के खिलाफ सबूत हैं। दोनों इनका खुलासा नहीं करते।

अरविन्द केजरीवाल ने नोटबंदी के मसले पर भारतीय जनता पार्टी को घेरते हुए कहा कि भाजपा से कारोबारी नाराज हैं। उन्होंने लिखा : 'देश के कारोबारी कह रहे हैं कि भाजपा धन हमसे लेती है, वोट भी और हमें चोर कहती है? असलियत में चोर प्रधानमंत्री के साथ भोजन का आनंद लेता है।’

केजरीवाल का यह हमला सीधा पीएम मोदी की ओर था। देखने में आया है कि अरविन्द केजरीवाल पीएम मोदी पर बड़े हमले करने से पीछे नहीं रहते। वहीं भाजपा जबाव देने में थोड़ी पीछे है क्योंकि अभी नोटबंदी की उलझन से वह पार नहीं पा रही। उसपर विपक्ष हर समय हमलावर है।

-रवि सिंह.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...