Header Ads

भाजपा दलित की बेटी को सत्ता में नहीं देखना चाहती -मायावती

mayawati%2Battacks%2Bmodi
मायावती के भाई आनंद कुमार के बैंक खाते में 1.43 करोड़ रुपये जमा होने का पता चला है.


बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि सभी दलों ने अपना पैसा जमा कराया है लेकिन उसकी चर्चा तक नहीं होती। यह दलित विरोधी मानसिकता है। ऐसे लोग दलित की बेटी के हाथ में सत्ता की चाबी नहीं देखना चाहते। मायावती ने ये विचार एक प्रेस वार्ता के दौरान यहां प्रवर्तन निदेशालय द्वारा बसपा को 104 करोड़ से ज्यादा का चंदा मिलने का खुलासा करने के बाद व्यक्त किये।

सूत्रों के मुताबिक ईडी को मायावती के भाई आनंद कुमार के एक बैंक खाते में 1 करोड़ 43 लाख रुपये जमा होने का भी पता चला है।

मायावती ने इस प्रकरण में सफाई देते हुए भारतीय जनता पार्टी पर आरोप मंढा कि भाजपा दलित विरोधी हैं। यदि पीएम में थोड़ी भी ईमानदारी है तो वे अपनी पार्टी समेत सभी दलों के खातों में 8 नवंबर से आये धन की जांच करायें। इस अवधि में सभी दलों ने अपने-अपने खातों में धन जमा कराया है लेकिन उनकी जांच नहीं की जा रही।

banking%2Bsystem%2Bindia

बसपा सुप्रीमो ने अपने भाई आनंद कुमार का बचाव करते हुए कहा कि उनके भाई का वर्षों पुराना कारोबार है। उसने नियमानुसार पैसे जमा कराये हैं। उन्होंने कहा कि मुझे यह भी जानकारी मिली है कि उनकी पार्टी के प्रभावशाली लोगों को परेशान करने के लिए भाजपा सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर सकती है।

मायावती ने कहा कि प्रधानमंत्री नोटबंदी को लेकर मायूस हैं और ताली पीटने वाले लोगों को लाते हैं। यही हाल रहा तो उनकी जीत और भी आसान हो जायेगी। उन्होंने कहा कि उनपर झूठे आरोप लगते रहे तो बसपा इस बार और भी बड़े बहुमत से सत्ता में आयेगी।

मायावती ने मीडिया को भी घेरे में लिया और कहा कि भाजपा के इशारे पर चैनल और मीडिया बीएसपी की छवि धूमिल करने के लिए तोड़-मरोड़कर खबरें प्रसारित कर रहा है।

-टाइम्स न्यूज स्टाफ.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...