shaukat-pasha-murder-amroha
दस दिसंबर को तुर्क बिरादरी का महासम्मेलन डिडौली में शौकत पाशा के गांव फत्तेहपुर माफी में होना है.

सपा के कैबिनेट मंत्री महबूब अली के खिलाफ तुर्क बिरादरी के लोग शौकत पाशा की हत्या के बाद से ही खुलकर सामने आ चुके हैं। उन्होंने 10 दिसंबर को एक महासम्मेलन का आयोजन करने की तैयारी कर ली है। इसके लिए तुर्क बिरादरी के युवा खासी तादाद में सक्रिय दिखायी दे रहे हैं। वे बिरादरी की एकजुटता को लेकर सभा कर महासम्मेलन में जुटने का आहवान कर रहे हैं।

बुधवार को जब सम्मेलन के लिए लगाये होर्डिंग को एक विशेष अभियान के तहत पुलिस और प्रशासन ने उतरवाया तो तुर्क बिरादरी ने इसे बदले की भावना के तहत कार्रवाई करार दिया। उनका आारेप था कि यह महबूब अली के इशारे पर किया जा रहा है। जबतक कैबिनेट मंत्री महबूब अली को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तबतक यह आंदोलन जारी रहेगा। उधर पुलिस ने कहा है कि महासम्मेलन के होर्डिंग बिना अनुमति के लगाये गये थे, इसलिए उन्हें उतारा गया है।

बीते 26 नवंबर को हिस्ट्रीशीटर शौकत पाशा की हत्या हो गयी थी। उसके बाद से तुर्क समाज में महबूब अली के खिलाफ रोष पनप रहा है। उन्होंने पिछले दिनों कैबिनेट मंत्री के होर्डिंग और बैनर फाड़ दिये थे तथा जगह-जगह हंगामा कर रोड जाम भी किया था। उनका साफ कहना है कि महबूब अली को गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

दस दिसंबर को तुर्क बिरादरी का महासम्मेलन डिडौली में शौकत पाशा के गांव फत्तेहपुर माफी में होना है। 

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...