Header Ads

उत्तर प्रदेश चुनाव 2017 : सपा, बसपा और भाजपा में इस बार कांटे की टक्कर

election-uttar-pradesh
अमरोहा की चारों सीटों को बचाये रखने का संकट है सपा के सामने.


विधानसभा चुनाव करीब हैं तथा नये साल के आरंभ में चुनाव आयोग अधिसूचना जारी कर चुनावी कार्यक्रम घोषित कर सकता है। अमरोहा जिले की चारों विधानसभा सीटों पर सपा, बसपा और भाजपा में जहां त्रिकोणात्मक मुकाबले की संभावना है वहीं बसपा ने चारों सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार दिये हैं तथा उम्मीदवार घोषित करने में वह अपनी दोनों प्रतिद्वंदी पार्टियों से आगे निकल चुकी है।

mehboob-kamal-ashfak-chandra

सपा ने अभी किसी भी सीट पर उम्मीदवार भले ही घोषित न किये हों लेकिन अमरोहा से महबूब अली और हसनपुर सीट पर कमाल अख्तर का नाम पक्का है जबकि नौगांवा सादात और मंडी धनौरा सीटों पर संशय बरकरार है। इन दोनों सीटों पर भी सपा का कब्जा है जहां क्रमशः अशफाक अली खां और एम चन्द्रा विधायक हैं।

भाजपा उम्मीदवार घोषित करने में अपने दोनों प्रतिद्वंदियों से पिछड़ गयी है। चारों में से एक भी सीट पर अभी उम्मीदवार फाइनल नहीं हो पाया। सभी सीटों पर कई-कई लोग टिकट की लाइन में हैं। सभी अपने-अपने दावे पेश कर रहे हैं। दूसरे दलों से हाल ही में भाजपा में आये हुए कुछ नेता भी टिकट मांग रहे हैं। इससे भी टिकट फाइनल में देरी हो रही है।

jagjit-singh-jaidev-singh-shoorveer-singh

कांग्रेस तथा रालोद भी अपने उम्मीदवार सभी सीटों पर उतारेंगे परंतु इन दलों का कोई मजबूत चेहरा दिखाई न देने से इनकी पराजय की गारंटी लोग दे रहे हैं लेकिन उन्हें यह भी ध्यान रखना चाहिए कि ऐसे लोग चुनावी समीकरणों में कई स्थानों पर भारी उलटफेर कर देते हैं।

लोकसभा चुनाव में भाजपा को विजयी उम्मीदवार कंवर सिंह तंवर जिले की चार विधानसभाओं में से तीन पर बढ़त में थे जबकि अमरोहा सीट पर वे सपा उम्मीदवार से बहुत पीछे थे। जबकि उसके बाद जिला पंचायत चुनाव में यहां सपा और बसपा में बराबर की टक्कर थी। भाजपा उसमें दोनों से पीछे थी।

देखते हैं विधानसभा के आगामी चुनाव में इस त्रिकोणात्मक मुकाबले में सपा, बसपा और भाजपा में से कौन बाजी मारता है?

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...