Header Ads

भाजपा ने अमरोहा जनपद की सीटों पर नये उम्मीदवार उतारे

मंडी-धनौरा-से-राजीव-तरारा
मंडी धनौरा से राजीव तरारा तथा नौगांवा से चेतन चौहान को बनाया गया बीजेपी उम्मीदवार.


भाजपा द्वारा जिले की चारों सीटों पर उम्मीदवार घोषित करने और अखिलेश यादव को साइकिल चुनाव चिन्ह मिलने की खबर से जनपद की राजनीति गरमा गयी है।

भाजपा ने सन् 2012 के अपने चारों उम्मीदवारों को किनारे कर नये उम्मीदवारों पर भरोसा जताया है।

मंडी धनौरा(सु0) सीट से इस बार भाजपा ने जिला पंचायत सदस्य और जिला महामंत्री राजीव तरारा को उम्मीदवार बनाया है। तरारा पार्टी के सर्वमान्य युवा चेहरे हैं।

उनके पिता तोताराम गंगेश्वरी से विधायक रह चुके हैं। तरारा लंबे समय से भाजपा से जुड़े हैं। उन्होंने क्षेत्र में पार्टी को मजबूत करने के लिए रात-दिन काम किया। जबकि 2012 में भाजपा उम्मीदवार रहे हरपाल सिंह चौथे नंबर पर रहे थे।

हरपाल सिंह ने पार्टी को जोड़ने या जमीनी स्तर पर बहुत अच्छा काम भी नहीं किया था। पार्टी के कार्यकर्ता और स्थानीय नेता उनसे असंतुष्ट थे।

हाइकमान के इस फैसले का भाजपा के सभी कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया है।

पूर्व-सांसद-चेतन-चौहान
पूर्व सांसद चेतन चौहान क्रिकेटर रहे हैं. वे निफ्ट के चेयरमैन भी हैं. भाजपा ने दूसरों को दरकिनार कर उनपर भरोसा किया है.

नौगांवा सादात विधानसभा क्षेत्र से पार्टी ने निफ्ट चेयरमेन और पूर्व सांसद चेतन चौहान को उम्मीदवार बनाया है।

2012 में पार्टी ने यहां से युद्धवीर सिंह को मैदान में उतारा था। वे पांचवें स्थान पर थे। ऐसे में उन्हें मैदान में से हटाया गया।

जबकि चेतन चौहान जातीय वोटों की एक बड़ी तादाद के कारण आगे किये गये। यहां चौहान मतदाता चालीस हजार से अधिक हैं।

डा. हरि सिंह ढिल्लो गत वर्ष रालोद छोड़ भाजपा में आये थे और टिकट मांग रहे थे। यहां बसपा और राकिमपा से दो जाट पहले ही मैदान में हैं। तीसरा जाट उतारना जातीय गणित के विपरीत था, ऐसे में पार्टी ने जाट के नाम पर पहले ही चुप्पी साध ली थी।

पूर्व सांसद तथा हाल ही में सपा छोड़ भाजपा में आये देवेन्द्र नागपाल भी नौगांवा से टिकट के मजबूत दावेदार माने जा रहे थे। उन्हें पार्टी में नये तथा सजातीय वोट बैंक के कारण नहीं लिया गया हालांकि उनकी सभी जातियों पर मजबूत पकड़ रही है।

चेतन चौहान के अलावा बसपा छोड़ भाजपा में आये राहुल चौहान भी उम्मीदवारी चाहते थे। वे 2012 में यहां से बसपा के टिकट पर सपा से मामूली अंतर से हारे थे।

चेतन पार्टी के पुराने नेता हैं इसलिए राहुल के बजाय चेतन को तरजीह दी। जहां मंडी धनौरा में भाजपा राजीव तरारा के नाम पर एकमत है, वहीं नौगांवा में चेतन चौहान को असंतुष्टों का संकट बना रहेगा।

अमरोहा जिले की सीटों पर ये उम्मीदवार हुए घोषित -
1. राजीव तरारा : मंडी धनौरा सीट.
2. चेतन चौहान : नौगांवा सादात.
3. डा. केएस सैनी : अमरोहा
4. चन्द्रपाल खड़गवंशी : हसनपुर.


जरुर पढ़ें : अमरोहा की चारों सीटों पर बसपा ने उतारे उम्मीदवार

अमरोहा से डा. के.एस. सैनी तथा हसनपुर से चन्द्रपाल खड़गवंशी को भी जातीय समीकरणों के आधार पर उम्मीदवार बनाया गया है।

अमरोहा में भाजपा उम्मीदवार के सामने सपा के कद्दावर नेता महबूब अली और हसनपुर में बसपा से गंगासरन खड़गवंशी के मैदान में आने से खड़वंशियों के वोट बंटेंगे जिसका लाभ सपा के उम्मीदवार कमाल अख्तर को मिलेगा। पिछली बार कमाल 95 हजार रिकार्ड मतों से जीते थे।

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...