Header Ads

भाजपा का टिकट टकराव खतरे की घंटी, चुनाव से पहले ही हारने की तैयारी में भाजपा

चन्द्रपाल-खड़गवंशी-महेन्द्र-सिंह-खड़गवंशी
अब चंद्रपाल खड़गवंशी के टिकट कटने पर बीजेपी में घमासान है.


चन्द्रपाल खड़गवंशी का टिकट काटकर महेन्द्र सिंह खड़गवंशी को भाजपा उम्मीदवार बनाये जाने से यहां पार्टी में गुटबंदी कम होने के बजाय और बढ़ गयी। पहले महेन्द्र सिंह समर्थकों ने नाराजगी व्यक्त कर चन्द्रपाल सिंह को टिकट मिलने का विरोध किया था।

उन्होंने भाजपा सांसद कंवर सिंह तंवर के फार्म हाउस पर धरना देकर आत्मदाह की धमकी दी। इससे भाजपा हाइकमान ने महेन्द्र सिंह को टिकट जारी कर दिया।

पहले महेंद्र खड़गवंशी के समर्थक बीजेपी सांसद कंवर सिंह तंवर के झनकपुरी स्थित फार्म हाउस पर गए थे, अब जब चंद्रपाल खड़गवंशी का टिकट कटा तो उनके समर्थक भी तंवर के दरबार पहुंचे.

अब चन्द्रपाल सिंह तथा उनके सर्थकों में रोष है। सांसद के फार्म हाउस पर उन्होंने प्रदर्शन किया तथा महेन्द्र सिंह का टिकट काटकर चन्द्रपाल सिंह को टिकट देने की मांग की। दोनों पक्ष उम्मीदवारी की मांग पर अड़ गये हैं।

भाजपा का शीर्ष नेतृत्व यदि मामला नहीं सुलझा सका तो यहां का सबसे बड़ा खड़गवंशी वोट बैंक बसपा की ओर एकजुट हो जायेगा। ऐसे में फिर सपा-बसपा में सीधी टक्कर के आसार बन जायेंगे।

बसपा ने यहां से गंगासरन खड़गवंशी को उम्मीदवार बनाया है। जबकि सपा ने कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर पर भरोसा किया है। यहां सपा एकजुट है। पिछला चुनाव भी कमाल अख्तर ने 32 हजार से अधिक मतों के अंतर से जीता था।

भाजपा का टिकट टकराव उसके लिए खतरे की घंटी सिद्ध होगा।


-टाइम्स न्यूज़ हसनपुर.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...