Header Ads

मुलायम को लगता है कि कांग्रेस से गठबंधन सपा को खत्म कर देगा

मुलायम-सिंह-यादव
मुलायम ने कहा कि गठबंधन के तहत जो सीटें छोड़ी गयी हैं वहां जाकर चुनाव लड़ें.


उत्तर प्रदेश के चुनाव में कांग्रेस और सपा के बीच नेता जी आ गए हैं। मुश्किल से और काफी देर से हुआ सपा-कांग्रेस गठबंधन अब मुलायम सिंह यादव के रुख के कारण नुकसान झेल सकता है। परिवार की एक लड़ाई तो अखिलेश ने जीत ली, मगर अब परिवार में फिर से नयी जंग शुरु होने के कयास लगाये जा रहे हैं। नेता जी नाराज हो गये हैं।

ऐसा नहीं कि नेता जी पहली बार अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। वे अकसर अपने पुत्र और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से नाराज रहते ही हैं। वे पहले अखिलेश को सार्वजनिक मंचों से हिदायतें देते नहीं थकते थे। लेकिन भाई का मोह उन्हें अपने बेटे का विरोध करने को खुलकर सामने ले आया था।

मुलायम ने नई दिल्ली में कार्यकर्ताओं से कहा कि गठबंधन के तहत जो 105 सीटें कांग्रेस को छोड़ी गयी हैं वहां जाकर चुनाव लड़ें। वे खुलकर कांग्रेस के खिलाफ हो गये हैं।

मुलायम को लगता है कि कांग्रेस के साथ सपा का गठबंधन पार्टी को खत्म कर देगा। वे सपा को अपने सामने मरते हुए देखना नहीं चाहते। वे सोच रहे हैं कि 105 सीटों पर सपा का कोई उम्मीदवार नहीं है। वहां से कांग्रेस को मजबूती मिलेगी। उसे पहले से अधिक सीटें मिलेंगी तो वहां सपा की स्थिति आने वाले समय में गिरेगी। यह डर मुलायम को सता रहा है।

यूपी में सात चरणों में चुनाव होने हैं। यूपी में 11 फरवरी को पहले चरण का मतदान होगा। इसमें उत्तर प्रदेश के 15 जिले हिस्सा लेंगे।

-टाइम्स न्यूज़ स्टाफ.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...