नवजोत-सिंह-सिद्धू
'उनके साथ मेरा कोई मनमुटाव नहीं था, उन्होंने गठबंधन को चुना, मैंने पंजाब को चुना'


नवजोत सिंह सिद्धू ने कांग्रेस का दाम थामने के बाद अपनी पहली प्रेस वार्ता की। उन्होंने कहा कि वे अपने घर वापस आये हैं। उनकी जड़ें तो कांग्रेस में ही हैं। उनके पिता गदर पार्टी में थे।

नवजोत सिंह सिद्धू बीजेपी छोड़कर रविवार को कांग्रेस में शामिल हुए हैं। उन्होंने अकाली दल पर हमला करते हुए कहा कि अकाली दल अब जायदाद बन गया है। बोले,'भाग, बाबा बादल भाग। पंजाब की जनता आती है। ये प्रण है सिद्धू का।’

सिद्धू ने कही ये मुख्य बातें :

1. मैंने बीजेपी में रहकर भी बादलों के खिलाफ आवाज रखी थी. मैं पंजाब में लोगों को बताऊंगा कि इन्होंने कैसे पंजाब को लूटा है.

2. बीजेपी के साथ मेरा कोई बड़ा मनमुटाव नहीं था, लेकिन उन्होंने गठबंधन को चुना और मैंने पंजाब को चुना.

navjot-singh-sidhu

3. जब बात होती है तो आपस के मतभेद मिटाए जा सकते हैं. अगर लालू-नीतीश एक हो सकते हैं तो मैं और कांग्रेस क्यों नहीं.

4. सिद्धू अलख जगाने आया था. एक जरिया चाहिए था, एक माध्यम चाहिए था. कांग्रेस में वह जरिया और माध्यम मिल गया है. अब अलख भी जगाऊंगा और लोगों का एहसास भी जगाऊंगा.

5. भाग बादल भाग, कुर्सी खाली कर. पंजाब की जनता आती है.

6. लोग कहते हैं कि सिद्धू पार्टी को मां कहता था. लेकिन मां तो कैकयी भी थी. सबको पता है मंथरा कौन है पंजाब में.

7. मैं तो पैदाइशी कांग्रेसी हूं. मैं अपनी जड़ों पर लौट आया हूं.

8. पार्टियां अच्छी-बुरी नहीं होतीं, उसे चलाने वाले लोग बुरे होते हैं. अकाली दल आज किसी की जायदाद बन गया है.

-टाइम्स न्यूज.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...