Header Ads

‘लोगों को समझना होगा यह चुनाव केवल सरकार बनाने के लिए नहीं बल्कि राज्य को बचाने के लिए है’

पंजाब में 4 फरवरी को चुनाव होंगे. 11 मार्च को चुनाव के नजीते आने हैं.


पंजाब का चुनाव रोचक होता जा रहा है. रोज सियासी हमले हो रहे हैं. कांग्रेस हालांकि उस तरह के हमले नहीं कर रही जिस तरह भाजपा उनपर कर रही है. मगर नशे से आजादी की बात आम आदमी पार्टी और कांग्रेस दोनों कर रहे हैं. वे इसका ठीकरा मौजूदा बादल सरकार पर फोड़ रहे हैं. पंजाब में अकाली दल-भाजपा, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला बताया जा रहा है.

राहुल गांधी ने कहा,’पंजाब में नशे की बड़ी समस्या है. कारोबार और उद्योग सिकुड़ रहे हैं, फिर चाहे टैक्स टाइल्स हो या निर्माण, उद्योग राज्य से बाहर जा रहे हैं. जब चारों ओर देखेंगे तो पता चलेगा कि केवल एक परिवार का ही दबदबा है. बादल परिवार का राज्य में प्रत्येक चीज में हिस्सा है. पंजाब बादल टैक्स देता है.’

राहुल ने आगे कहा कि गुरुनानक ने कहा था कि सब कुछ आपका है लेकिन अकाली दल का कहना है कि सब कुछ मेरा है. पंजाब के लोगों को समझना होगा यह चुनाव केवल सरकार बनाने के लिए नहीं बल्कि राज्य को बचाने के लिए है.

"अमरिंदर सिंह ने पंजाब के लिए अपना खून-पसीना बहाया है. पंजाब के भले के लिए उन्हों ने दिन-रात काम किया है. उन्होंने हमेशा पंजाबियों और सरदारों के लिए काम किया. वह हमारे मुख्यमंत्री होंगे."

राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार को लोकतांत्रिक तरीके से चलाती है जबकि दिल्ली की आप सरकार का रवैया इससे अलग है. अरविंद केजरीवाल दिल्ली और पंजाब दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं.

पंजाब में 4 फरवरी को चुनाव होंगे. 11 मार्च को चुनाव के नजीते आने हैं. 2 फरवरी को चुनाव प्रचार बंद हो जाएगा.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...