Header Ads

यूपी चुनाव 2017 : क्या है बसपा का चुनावी गणित?

मायावती-का-चुनावी-गणित
मायावती ने इस बार मुस्लिमों पर पहले से ज्यादा भरोसा किया है, दलितों पर कम.


बसपा सुप्रीमो मायावती ने इस बार पहले से अधिक मुस्लिमों को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए टिकट दिये हैं। मायावती ने पिछली बार के मुकाबले इस बार 12 अधिक मुस्लिम उम्मीदवार उतारे हैं। 2012 के विधानसभा चुनाव में बसपा की ओर से कुल 85 मुस्लिम उम्मीदवार बनाये गये थे। इस बार यह आंकड़ा 97 हो गया है।

अगर दलित उम्मीदवारों की बात करें तो मायावती ने इस बार कुल 87 दलित प्रत्याशी बनाये हैं जबकि 2012 में पार्टी ने 88 दलितों को मैदान में लड़ाया था।

मायावती का पूरा चुनावी गणित देखें :

मायावती-का-पूरा-चुनावी-गणित-देखें

वहीं ओबीसी 106 उम्मीदवार बनाये गये हैं जो पिछले साल के मुकाबले कम हैं। 2012 में 113 उम्मीदवार अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के थे। ब्राह्मणों की भी इस बार संख्या कम की गयी है।

जहां 2012 में 74 ब्राह्मणों पर भरोसा कर उन्हें बसपा ने टिकट दिया था, इस बार वे घटकर 66 रह गये हैं। ठाकुर इस बार 36 उम्मीदवार बनाये गये हैं जो पिछले साल से तीन कम हैं।

ऐसा लगता है इस बार मायावती को मुस्लिमों पर अधिक ऐतबार है। वे मुस्लिमों और दलितों के दम पर विधानसभा की वैतरणी को पार करने का मन बना चुकी हैं।

-टाइम्स न्यूज स्टाफ.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...