आम-बजट-अरुण-जेटली
पहली बार एक फरवरी को देश का आम बजट पेश किया गया है.


केंद्र सरकार का चौथा आम बजट वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पेश किया. उन्होंने मध्य वर्ग को आयकर के मामले में थोड़ी राहत दी. 3 लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं देना होगा.

उन्होंने कहा कि 50 लाख से एक करोड़ कमाने वालों को 10% सरचार्ज देना होगा. सबसे बड़ी बात ये रही कि राजनीतिक दल किसी से नक़द दो हज़ार रुपए से अधिक चंदा नहीं ले पाएंगे. पहले इसकी सीमा बीस हज़ार रुपए थी.

बजट की मुख्य बातें :

आम-बजट-मुख्य-बातें
आम-बजट-मुख्य-बातें-जेटली
आम-बजट-मुख्य-बातें-मोदी-सरकार


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...