Header Ads

11 साल के वंश कसाना ने एक बार फिर गजरौला का मान बढ़ाया

वंश-कसाना-गजरौला
पिछले साल हुई नेशनल और स्टेट लेवल की प्रतियोगिताओं में उसने कई पदक जीते थे.


11 साल के वंश कसाना ने एक बार फिर गजरौला का मान बढ़ाया है। यहां सैंट मैरी कान्वेंट स्कूल में चौथी-ए कक्षा में पढ़ने वाला वंश स्केटिंग प्रतियोगिताओं में कई पुरस्कार जीत चुका है। 15 फरवरी को नयी दिल्ली में होने वाली प्रतियोगिता में भी वह भाग लेगा। उसने बताया कि उसके इरादे हमेशा मजबूत रहे हैं। इस बार भी वह सबसे आगे रहेगा।

हाल में उसे स्केटिंग प्रतियोगिता में दो पुरस्कार मिले। स्केटिंग रेस व बैक रेस में उसे प्रथम पुरस्कार मिले हैं। वह अपनी सफलता का श्रेय अपने ट्रेनर मोहित को देता है जिनकी बदौलत वह विजय हासिल कर सका। वंश का कहना है कि माता-पिता के आशीर्वाद से वह निरंतर सफल हो रहा है।

वंश-कसाना-गजरौला-पुरस्कार

वंश कसाना गजरौला के मोहल्ला विजयनगर निवासी धर्मपाल सिंह कसाना का बेटा है। पिछले साल हुई प्रतियोगिताओं में उसने कई पदक जीते थे। दिल्ली में नेशनल और स्टेट लेवल के टूर्नामेंट में उसे दो सिल्वर मेडल मिले थे।

वंश ने खेलकूद के साथ-साथ पढ़ाई को भी उतना ही महत्व दिया है। वह कहता है,'मैंने दोनों में सामंजस्य बना रखा है। मेरी रुचि खेल और पढ़ाई में है। अभ्यास का मतलब मैं अच्छी तरह जानता हूं। अभ्यास दोनों में जरुरी है।’

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...