Header Ads

नगर निकाय चुनाव : तीसरी बार सामान्य सीट के पक्षधर भी काफी हैं

सामान्य सीट की इच्छा रखने वालों में कई लोगों के नाम शामिल हैं.

तीसरी बार सामान्य सीट के पक्षधर भी काफी हैं
(1) अरविन्द अग्रवाल (2) डॉ. आशुतोष भूषण शर्मा (3) अनिल अग्रवाल (4) रोहताश शर्मा (5) रामकृष्ण चौहान.
जरुर पढ़ें : पिछड़ा वर्ग को मौका क्यों नहीं?

यहां सामान्य वर्ग में चुनाव लड़ने के आकांक्षी नेताओं का तर्क है कि गजरौला में पहली बार पालिका चुनाव होने जा रहे हैं। इसलिए वर्गीकरण में सामान्य सीट होनी चाहिए। अभीतक यही आधार अपनाया गया है। उसके बाद अनुसूचित या बीसी किसी एक को लिया जा सकता है। इसी के साथ ये लोग यह भी तर्क देते हैं कि सामान्य वर्ग से आरक्षित वर्ग के उम्मीदवार भी मैदान में आ सकते हैं। इसलिए भी पहले सामान्य सीट हो तो बेहतर होगा। उसमें यह भी हो सकता है कि इसे महिला सीट घोषित कर दिया जाये। अभी तक यहां एक भी महिला अध्यक्ष नहीं बन पायी जबकि कई महिलायें मैदान में आयी थीं।

सामान्य सीट की इच्छा रखने वालों में पूर्व चेयरमैन अनिल कुमार गर्ग, पूर्व चेयरमैन रोहताश शर्मा, सभासद डा. आशुतोष भूषण शर्मा, कपिल गोयल, सभासद अनिल अग्रवाल, रामकृष्ण चौहान, राजकुमार अग्रवाल, अरविन्द अग्रवाल, जगदीश शरण अग्रवाल आदि के नाम शामिल हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.



Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...