Header Ads

भाजपा मंत्री चेतन चौहान की कंपनी सहित 13 इकाइयों पर एनजीटी की सख्ती

एनजीटी ने अपनी जांच में पाया कि कंपनियां नियमों की अनदेखी कर रही हैं.

एनजीटी के आदेश के बाद 13 औद्योगिक इकाइयां बंद होंगी। इनमें उत्तर प्रदेश सरकार में अमरोहा से मंत्री चेतन चौहान की इकाई कोरल न्यूज प्रिंट का नाम भी शामिल है। जुबिलेंट लाइफ साइंसेज लि., टेवा एपीआई लि., उमंग डेयरीज लि. सहित तेरह इकाइयों को बंद करने का आदेश दिया है। एनजीटी ने अपनी जांच में पाया कि कंपनियां नियमों की अनदेखी कर रही हैं। एनजीटी ने सभी को बंद करने का आदेश दिया है। मंगलवार को एनजीटी की चार सदस्यीय टीम गजरौला आयी थी। इस मामले के बाद जुबिलेंट के शायरों में भी गिरावट का दौर जारी रहा।

भाजपा मंत्री चेतन चौहान की कंपनी
जरुर पढ़ें : 'हम आखिरी दम तक प्रदूषण के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे'

एनजीटी ने पाया कि गजरौला की औद्योगिक इकाइयों से बगद नदी प्रदूषित हो रही है जो बाद में गंगा नदी में मिलती है। पहले भी यहां समय-समय पर प्रदूषण के खिलाफ स्थानीय युवा आवाज उठाते रहे हैं। इसे लेकर संसद में भी मामला उठा है।

जिन तेरह कंपनियों को बंद करने का आदेश दिया है, वे हैं -
1. जुबिलेंट लाइफ साइंसेज लि. (डिस्टलरी यूनिट)
2. जुबिलेंट लाइफ साइंसेज लि. (कैमिकल यूनिट-1)
3. जुबिलेंट लाइफ साइंसेज लि. (कैमिकल यूनिट-2)
4. जुबिलेंट इंडस्ट्रीज लि. (पॉलीमर यूनिट)
5. जुबिलेंट एग्री एंड कन्ज्यूमर प्रोडक्ट्स लि.
6. इंसिल्को लि.
7. उमंग डेयरीज लि.
8. कोरल न्यूज प्रिंट्स लि.
9. कामाक्षी पेपर मिल
10. टेवा एपीआई इंडिया लि.
11. डेयरी इंडिया प्राइवेट लि.
12. मोहित पेट्रो कैमिकल प्राइवेट लि.
13. जैन डिस्टलरी प्राइवेट लि.

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...