Header Ads

पारा चढ़ते ही अग्निकांडों का सिलसिला शुरु

जिले में अग्निकांडों की घटनाएं आयेदिन हो रही हैं जिसमें जानमाल की क्षति हो रही है.

मौसमी तापमान बढ़ते ही क्षेत्र में आग लगने की घटनायें शुरु हो गयी हैं। इन घटनाओं में कई स्थानों पर भारी जानमाल की क्षति हुई है। कई परिवार तो बुरी तरह बरबाद हो गये हैं। इनमें से अधिकांश घटनायें विद्युत के कारण हो रही हैं।

पारा चढ़ते ही अग्निकांडों का सिलसिला शुरु

नगर से सटे गांव सलेमपुर गोसाईं में रोहताश सैनी की गेहूं की खड़ी फसल में विद्युत तारों से उठी चिंगारी से अचानक आग लग गयी। लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया। गजरौला से सूचना पर फौरन एक दमकल ने पहुंच कर आग पर काबू पाया। फिर भी तीन बीघा गेहूं जलकर राख हो गया। यदि समय से दकमल न पहुंचती तो किसान के आठ बीघा खेत का सारा गेहूं जल जाता। पन्द्रह हजार से अधिक का नुक्सान हुआ है।

इससे पूर्व नगर के शंभू स्वीट्स में बिजली के केबिल से स्पार्किंग ने बीस लाख का माल जलाकर राख कर दिया। यह दुकान थाना चौराहा के पास है। हसनपुर के एक गांव में हाल में अग्निकांड में साठ परिवारों के घर जल गये। कई पशु जिंदा जल गये जबकि घरों में रखे गद्दे, रिजाई, चारपाई, कपड़े, अनाज सहित सभी कुछ जलकर खाक हो गया। भूखे और अपना सबकुछ गंवा चुके लोगों को अग्निशमन की सेवा फायर स्टेशन से बहुत दूर होने के कारण नहीं मिल सकी। गंगा के खादर में बसे इन घरों तक वैसे भी दमकल पहुंचना आसान बल्कि संभव भी नहीं।

गेहूं की खड़ी फसल में विद्युत तारों से उठी चिंगारी

कई समाजसेवी संगठनों तथा भाजपा विधायक महेन्द्र सिंह खड़गवंशी ने मौके पर पहुंच कर पीड़ितों को अनाज, वस्त्र तथा नकदी का प्रबंध कराया। उन्होंने सरकार के आपदा पीड़ित फंड से भी आर्थिक सहायता दिलाने की कार्रवाई की है।

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...