Header Ads

आम की फसल पर सूखे की मार, आम उत्पादक परेशान

बौर भी गत वर्ष से कम आया था, जबकि पेड़ों पर लगा आम सूखे के कारण गिर रहा है.

आम उत्पादन के लिए विख्यात जनपद में आम की फसल इस बार कमजोर है। इसी के साथ सूखे और आंधी के कारण आम उत्पादन आशाओं से कम है। बौर भी गत वर्ष से कम आया था, जबकि पेड़ों पर लगा आम सूखे के कारण गिर रहा है। इससे आम उत्पादक परेशान हैं।

आम की फसल पर सूखे की मार

उद्यान विभाग के अधिकारी बागवानों को पर्याप्त सिंचाई की सलाह दे रहे हैं जबकि आम उत्पादकों का कहना है कि भरपूर सिंचाई के बावजूद आम गिर रहे हैं जो अभी किसी काम के नहीं।

यदि ऐसे में आंधी आयी, जैसाकि आजकल होता है तो बरबादी रोकना किसी के बस की बात नहीं।

बताते चलें कि जिले में सिहाली जागीर और बछरायूं के साथ सभी जगह बड़े पैमाने पर आम के बाग हैं जिनके क्षेत्र में प्रति वर्ग इजाफा जारी है। हालांकि अमरोहा नगर के आसपास के पुराने आम के बाग खत्म हो गये हैं।

ब्लॉक गजरौला के रेतीले इलाके में आम के दूर तक बाग फैले हैं। गजरौला से धनौरा तक सड़क के दोनों ओर बाग ही बाग हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...