Header Ads

किसान आंदोलन : कई वाहनों को फूंका गया, डीएम के जड़ा थप्पड़

तोड़फोड़ और आगजनी की घटनाओं से मध्य प्रदेश राज्य थर्राया हुआ है.

मध्य प्रदेश में किसान आंदोलन की आग पूरे राज्य में फैल रही है। मंदसौर में हिंसा भड़क उठी है। राज्य सुलग रहा है। आंदोलन को सात दिन हो गये हैं। किसानों के सरकार विरोधी धरना और प्रदर्शन जारी हैं। कई इलाकों में कर्फ्यू लगा हुआ है।

madhya_pradesh_farmers_protest

बुधवार को हिंसा फिर से भड़क उठी। मंगलवार को पुलिस की गोली में पांच किसानों की मौत हो गयी थी। उसके विरोध में राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ और कांग्रेस ने बुधवार को बंद का आहवान किया था।

डीएम स्वतंत्र कुमार सिंह ने कहा कि पांच लोग मारे गये हैं जबकि आम किसान यूनियन का कहना है कि पाटीदार समाज के 6 लोगों की मौत हुई है। मृतकों की संख्या बढ़ सकती है।

madhya_pradesh_kisan_andolan

आंदोलनकारियों ने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। तोड़फोड़ और आगजनी की घटनाओं से राज्य थर्राया हुआ है। डीएम स्वतंत्र कुमार सिंह के साथ प्रदर्शनकारियों ने अभद्रता की। उनके कपड़े फट गये। किसी ने उनके सिर पर थप्पड़ भी जड़ दिया। एसपी को भी किसानों के गुस्से का सामना करना पड़ा। उन्हें भी घेर लिया गया। गोलीबारी में मारे गये एक छात्र के शव को सड़क पर रखकर किसानों ने विरोध-प्रदर्शन किया। देवास, नीमच, उज्जैन, आदि में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो रहा है।

मध्य प्रदेश में किसान अपनी मांगों को लेकर सात दिन से प्रदर्शन कर रहे हैं। सरकार बैठकें कर रही है लेकिन समस्या का स्थायी इलाज ढूंढने में नाकाम नजर आ रही है।

-टाइम्स न्यूज़.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...