Header Ads

जब कृषि मंत्री पर फेंके गये अंडे..

'किसानों की हत्या के बाद राधामोहन को कृषि मंत्री बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है.'

मध्य प्रदेश की घटना का विरोध तेज होता जा रहा है। केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह की गाड़ी पर लोगों ने अंडे फेंके। सरकारी अतिथि गृह के करीब काले झंडे लहराये गये और अपना विरोध दर्ज कराया।

radhamohan singh

मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में 6 किसानों की मौत की घटना के बाद यहां युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह के वाहन पर अंडे फेंके। हालांकि बाद में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। मृत्री सबका साथ सबका विकास से संबंधित एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे कि तभी कुछ कार्यकर्ताओं ने अंडे फेंके।

'किसानों की शिकायत का जवाब गोली से दिया जा रहा है’

गिरफ्तार किये गये कार्यकर्ताओं में से एक का कहना था कि भाजपा शासित राज्य में किसानों की हत्या के बाद राधामोहन सिंह को कृषि मंत्री बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं है। वहीं भाजपा ने इस घटना के लिए ओडिशा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

किसान की पीठ पर पड़े डंडे की चोट मेरी पीठ पर लगती है’

वहीं कांग्रेस ने कहा है कि प्रदर्शन में कुछ भी गलत नहीं है। केन्द्र सरकार को लोगों की भावनाओं का पता होना चाहिए।

-टाइम्स न्यूज़.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...