समूह में योग करने से व्यक्ति एकाग्र होकर योग करता है. उसका ध्यान नहीं भटकता.

पतंजलि योग समिति एवं भारत स्वाभिमान ट्रस्ट द्वारा रमाबाई डिग्री कालेज में योग शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का संचालन गुरबचन सिंह सिद्धू ने किया।

21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इसे लेकर देश भर में तैयारियां जोरों पर हैं। रमाबाई डिग्री कालेज के प्रांगण में योग शिविर के दौरान भारत स्वाभिमान ट्रस्ट के जिला प्रभारी भीष्म आर्य एडवोकेट ने कहा कि योग दिवस एक महापर्व के रुप में मनाया जा रहा है। योग के प्रति संपूर्ण विश्व में जागरुकता बढ़ी है।

yoga bheeshm arya gajraula

समूह में योग करने के लाभ बताते हुए भीष्म आर्य ने कहा कि ऐसा करने से व्यक्ति एकाग्र होकर योग करता है। उसका ध्यान नहीं भटकता और यह बहुत लाभदायक है।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की तैयारी के लिए अवंतिका में योगाभ्यास

भीष्म आर्य ने कहा कि योग को जन आंदोलन बनाने की आवश्यकता है। यह स्वास्थ्य के लिए उत्तम है। आतंक, रोग, भ्रष्टाचार आदि से पीड़ित लोगों को योग ही दिशा से दे सकता है। महर्षि पतंजलि के योग दर्शन का पहला सूत्र ही 'अथ योगानुशासनम’ है, अर्थात अनुशासन ही योग है। संयमित और व्यवस्थित जीवन ही योग है। योगी व्यक्ति सृष्टि, संसार और समाज के लिए उपयोगी होता है। इसलिए हर किसी को योग को अपने जीवन में उतारना बेहद जरुरी है। योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। फिर आप स्वयं हैरान रह जायेंगे कि योग ने आपके जीवन में चमत्कार कर दिया। स्वयं योगासन करें, दूसरों को करायें। आज के युग में यही सच्ची समाजसेवा है।

इस दौरान संजीव त्यागी, सिद्धराज सिंह, मोनू कुमार, प्रदीप कुमार, रामनिवास, पवित्रा, पूनम, सुमित शर्मा, अमित सिंह, विशाल कुमार आदि मौजूद रहे।

योग से जुड़े सभी समाचार देखें>>

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...