जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू चौधरी के खिलाफ 28 में से 16 जिला पंचायत सदस्य आ गये हैं.

अमरोहा जिला पंचायत अध्यक्ष रेनू चौधरी की कुर्सी फिर खतरे में पड़ गयी है। हालांकि तख्ता पलट का यह दूसरा प्रयास है जो सफल होता नजर आ रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि रेनू चौधरी अब शायद ही अपनी कुर्सी बचा पायें, लेकिन उनकी ओर से जद्दोजहद जारी है। रेनू चौधरी पूर्व कैबिनेट मंत्री चौ. चन्द्रपाल सिंह की पुत्रवधू हैं।

renu-chaudhary-sarita-chaudhary-zila-panchayat

प्रदेश में सत्ता बदलते ही जिला पंचायत अध्यक्ष की कुर्सी पर खतरे के बादल मंडराने शुरु हो गये थे। जिला पंचायत सदस्य सरिता चौधरी के पति और भाजपा नेता भूपेन्द्र सिंह के नेतृत्व में हाल में जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल को अविश्वास प्रस्ताव सौंपा गया है। रेनू चौधरी के खिलाफ 28 में से 16 जिला पंचायत सदस्य आ गये हैं। सभी ने डीएम को शपथपत्र सौंपा जिसपर उनके हस्ताक्षर हैं।

जरुर पढ़ें : सरिता चौधरी के साथ आधे से अधिक सदस्य

डीएम ने कहा है कि अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान की तिथि शीघ्र निर्धारित की जायेगी।

अविश्वास प्रस्ताव लाने वाले सदस्यों के नाम हैं:
वार्ड 1. पूनम (अमरोहा/जोया)
वार्ड 4. चमन जहां (अमरोहा)
वार्ड 5. रवि (अमरोहा/जोया/धनौरा)
वार्ड 6. हनीफा बेगम (अमरोहा/धनौरा)
वार्ड 9. रीतू (गजरौला)
वार्ड 10.  सरिता चौधरी  (गजरौला)
वार्ड 11. महेश (गजरौला)
वार्ड 14. सुषमा (हसनपुर/जोया)
वार्ड 16. दयावती (हसनपुर/गंगेश्वरी)
वार्ड 17. रेश्मा (हसनपुर)
वार्ड 20. रामपाल सिंह (गंगेश्वरी)
वार्ड 21. भूपेन्द्र सिंह (गंगेश्वरी)
वार्ड 23. हाजी इफ्तेखार हुसैन (जोया)
वार्ड 24. रियाजुल हसन (जोया)
वार्ड 27. अंजू भारती (जोया)
वार्ड 28. असरफ (जोया).

सम्बंधित ख़बरें :
रेनु ने सरिता के आरोपों को नकारा, कहा -'अविश्वास विफलता की खीझ'
भाजपा नेताओं की गुटबंदी रेनू चौधरी के लिए संजीवनी


Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...