Header Ads

बेघर बागड़ियों को भी आशियाना दिलाएंगी अंशु नागपाल

पालिका अध्यक्ष बागड़ी समुदाय के लोगों के पहचान-पत्र तथा राशन कार्ड पहले ही बनवा चुकीं.

सड़कों के किनारे लंबे समय से अभावग्रस्त जीवन जी रहे बागड़ी समुदाय के लोगों के जीवन में बदलाव लाने का बीड़ा पालिका अध्यक्ष अंशु नागपाल ने उठाया है। उन्होंने इस समुदाय के लोगों को कांसीराम कॉलोनी में मकान उपलब्ध कराने की कार्यवाही शुरु कर दी है। उन्होंने इस सिलसिले में इन लोगों के बीच पहुंचकर समस्या के समाधान की जानकारी बागड़ियों को दी और पालिका कर्मियों को काम सौंपा।

anshu-nagpal-gajraula
अंशु नागपाल, गजरौला पालिकाध्यक्ष.

उल्लेखनीय है, दशकों से बागड़ी समुदाय के कई दर्जन परिवार बिजली घर के पास सड़क किनारे डेरे डाल कर रह रहे हैं। तवे, तसले, फावड़े, दरांती, खुरपे आदि लोहे के घरेलू उपकरण तैयार कर किसी तरह आजीविका चला रहे हैं। दरिद्रता और गंदगी के साम्राज्य ने उसे शेष मानव समाज से पृथक कर के रख दिया है।

गजरौला को स्मार्ट सिटी बनाने में पूर्व सांसद देवेंद्र नागपाल और उनकी पत्नी अंशु नागपाल ओवर ब्रिज के नीचे तथा अभावों का जीवन काट रहे बागड़ी समुदाय को वहां से हटाकर अन्यत्र शिफ्ट करने की योजना बनाई। इससे जहां पुल के नीचे गंदगी समाप्त होगी वहीं इन लोगों को छत मुहैया कराने से इनके जीवन की राह भी राहत भरी हो जाएगी। पालिका अध्यक्ष इन लोगों के पहचान-पत्र तथा राशन कार्ड पहले ही बनवा चुकीं।

क्लिक कर पढ़ें : गजरौला से सीखें जिले के दूसरे शहर

अंशु नागपाल के हवाले से नासिर हुसैन ने बताया कि डीएम नवनीत सिंह चहल से मिलकर कालोनियों में इस समुदाय के लोगों को आवासीय सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। इसकी प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। इससे जहां नगर की स्वच्छता स्मार्ट सिटी में तब्दील करने में कदम और आगे बढ़ेगा, सबसे कमजोर तबके के लोगों के जीवन में सुधार का काम भी होगा। पूर्व सांसद देवेंद्र नागपाल का कहना है कि वे नगर के कमजोर लोगों को हरसंभव सहयोग देकर उनके घर खुशहाली के लिए बहुत कुछ कर रहे हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.

Gajraula Times  के ताज़ा अपडेट के लिए हमारा फेसबुक  पेज लाइक करें या ट्विटर  पर फोलो करें. आप हमें गूगल प्लस  पर ज्वाइन कर सकते हैं ...