Header Ads

प्रदूषण और अवैध भू-कब्जे पर जुबिलेंट को नोटिस देगी पालिका, पीड़ितों के पुनर्वास के लिए जुबिलेंट को चेताया अंशु ने

anshu-nagpal-with-devendra-nagpal-gajraula
अंशु नागपाल ने जुबिलेंट के अफसरों को भी वही बुलवाया और लोगों की प्रदूषण से संबंधित दिक्कतों को बताया.

औद्योगिक प्रदूषण के शिकार लोगों ने पालिका अध्यक्ष अंशु नागपाल के सामने अपना दर्द बयान किया तो पालिका की भूमि पर जुबिलेंट लाइफ साइंसेज के अवैध कब्जे का मामला प्रकाश में आया। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए चेयरमैन नागपाल ने जहां प्रदूषण पीड़ितों के पुनर्वास का दायित्व जुबिलेंट के कंधों पर डालने का दबाव बनाया वहीं अवैध रूप से पालिका की जमीन कब्जे के खिलाफ जुबिलेंट को नोटिस देने की चेतावनी भी दी।

anshu-nagpal-gajraula-chairman
अंशु नागपाल तथा उनके पति पूर्व सांसद देवेंद्र नागपाल.

शिकायत मिलने पर अंशु नागपाल तथा उनके पति पूर्व सांसद देवेंद्र नागपाल जुबिलेंट के पास तिगरिया भूड़ मोहल्ले में एक भूखंड पर झोपड़ियां डाल कर जीवन यापन कर रहे गरीब परिवारों के बीच पहुंचे। चेयरमैन ने जुबिलेंट के अफसरों को भी वही बुलवाया और लोगों की प्रदूषण से संबंधित दिक्कतों को बताया। उन्होंने कहा कि फैक्ट्री के प्रदूषण से लोगों में कई तरह के रोग फैल रहे हैं। उन्होंने अफसरों से सख्त लहजे में कहा कि इन लोगों को यहां से हटाकर दूसरे स्थान पर बसाया जाए, जहां प्रदूषण का प्रभाव ना हो। इसका पूरा दायित्व जुबिलेंट का होगा।

anshu-nagpal-devendra-nagpal
गजरौला की पालिकाध्यक्ष अंशु नागपाल और उनके पति पूर्व सांसद देवेन्द्र नागपाल ने तिगरिया भूड में समस्याएं सुनीं.
जरुर पढ़ें : गजरौला में 26 मार्च से होगा जुबिलेंट कप

इसी दौरान स्वच्छता प्रेरक तथा पूर्व सांसद देवेंद्र नागपाल ने कहा कि जुबिलेंट ने पालिका की भूमि पर कब्जा कर रखा है। जिसकी पालिका जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि नगर वासियों के साथ कुछ भी गलत नहीं होने दिया जाएगा। प्रदूषण प्रभावित लोगों को न्याय दिलाया जाएगा। यदि जुबिलेंट ने शीघ्र ही इन लोगों के पुनर्वास का प्रबंध नहीं किया और पालिका की भूमि कब्जा मुक्त नहीं की तो जुबिलेंट के खिलाफ नोटिस जारी कर आगे की कार्यवाही शीघ्र अमल में लाई जाएगी। दूसरी ओर जुबिलेंट प्रबंधक सुनील दीक्षित ने प्रदूषण के शिकार लोगों पर अवैध रूप से रहने का आरोप लगाया तथा कहा कि इस भूमि को लीज पर लेने की कार्यवाही जारी है। पहले डीएम फाइल शासन को भेज चुके। वैसे यह मामला कोर्ट में लंबित है।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.

(Anshu Nagpal and Devendra Nagpal Gajraula News)