Header Ads

मायावती को मुमकिन इसलिए लग रहा है क्योंकि उनका वोट बैंक मजबूती से खड़ा है

mayawati
मायावती ने स्पष्ट किया है कि वे विपक्ष के साथ मिलकर वर्तमान सरकार को उखाड़ फेंकने का माद्दा रखती हैं.

मायावती आगामी चुनावों के लिए तैयार हैं. उन्हें किसी भी तरह से मोदी सरकार को सत्ता से हटाना है. ऐसा मानने वालों में अखिलेश यादव भी हैं. ऐसा मानने वालों में कांग्रेस भी है और वे सभी दल हैं जो एनडीए को नहीं चाहते कि वे 2019 में चुनाव जीतें. आगामी चुनावों के लिए भी सपा और बसपा का गठबंधन होने को तैयार है और मिलकर मुकाबला करने के सभी कारण भी मौजूद हैं. हाल में एक मीटिंग में मायावती ने स्पष्ट किया है कि वे विपक्ष के साथ मिलकर वर्तमान सरकार को उखाड़ फेंकने का माद्दा रखती हैं.

लखनऊ में बसपा के पार्टी कार्यालय में मासिक समीक्षा बैठक में मायावती ने सभी विपक्षी दलों से आगे आने को कहा है. उनके अनुसार सभी दल मिलकर मोदी को सत्ता में आने से रोक सकते हैं.

उन्हें यह मुमकिन इसलिये भी लगता है क्योंकि उनका वोट बैंक मजबूती से उनके साथ खड़ा है. यूपी में सपा और बसपा गठजोड़ बहुत कुछ कर सकता है. उसके साथ कांग्रेस और अन्य दल मिलकर जीत का स्वाद चख सकते हैं.

देखना दिलचस्प होगा कि बीजेपी और उनके सहयोगी दल क्या दाल पका रहे हैं. उन्हें डर जरुर लग रहा होगा क्योंकि चुनावी समीकरणों से तो विपक्ष का पलड़ा ही भारी लग रहा है.