Header Ads

"देश का पूरा पैसा 15 से 20 लोगों के हाथों में जा रहा है"

rahul-gandhi-narendra-modi
कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आर्थिक तौर पर हम अच्छा विकास कर रहे हैं लेकिन नौकरियां तैयार नहीं.

कांग्रेस के लिए कर्नाटक का राण बहुत महत्त्व रखता है. उन्हें वहां किसी भी तरह राज्य को बीजेपी के हाथ नहीं जाने देना है. इसलिए राहुल गाँधी कर्नाटक में काफी वक्त बिता रहे हैं. इसी सिलसिले में मैसूर महारानी आर्ट महिला कॉलेज में उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि देश का पैसा 15 से 20 लोगों के हाथों में जा रहा है.

राहुल गाँधी ने कहा कि नीरव मोदी ने बैंकों से 22 हजार करोड़ रुपए लिए. क्या अनुमान लगा सकते हैं कि आप जैसी महिलाओं को अगर 22 हजार करोड़ रुपए दिए गए होते तो कितने बिजनेस खड़े हो गए होते?

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा कि आर्थिक तौर पर हम अच्छा विकास कर रहे हैं लेकिन नौकरियां तैयार नहीं कर पा रहे. ऐसा इसलिए है क्योंकि जिनके हाथों में हुनर है उन्हें वित्तीय मदद नहीं मिल पा रही. असली समस्या यह है कि देश का पूरा पैसा 15 से 20 लोगों के हाथों में जा रहा है.

क्लिक कर पढ़ें : राहुल गाँधी पहले मुस्कुराए और फिर मंच से नीचे उतर आए

नोटबंदी के मुद्दे पर राहुल गांधी ने कहा कि उनके विचार से नोटबंदी एक गलती थी जो नहीं होनी चाहिए थी. नोटबंदी के साथ-साथ जीएसटी ने भारत की अर्थव्यवस्था और रोजगार पर गहरी चोट दी है. जिस तरीके से नोटबंदी को लागू किया गया उसपर मुझे ऐतराज था. इस कदम के बारे में आरबीआई के गवर्नर, मुख्य आर्थिक सलाहकार, वित्त मंत्री किसी को कुछ भी जानकारी नहीं थी.

राहुल गाँधी ने छात्रों के सवाल-जवाब भी लिए. इस दौरान एक लड़की के साथ उनकी सेल्फी भी हुई.