Header Ads

'भाजपा ने गोरखपुर और फूलपुर सीटों की बुरी हार का बदला ले लिया'

yogi-adityanath
राज्यसभा में इस जीत से यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बड़ी रहत मिली होगी.

यूपी में राज्य सभा की 10वीं सीट पर भाजपा ने जीत दर्ज की है. इससे भाजपा खुश इसलिए है क्योंकि कहा जा रहा है कि उन्होंने गोरखपुर और फूलपुर सीटों पर पार्टी की बुरी हार का बदला ले लिया है. भाजपा प्रत्याशी अनिल अग्रवाल ने बसपा के भीमराव अंबेडकर को पराजित किया. यह मुकाबला आखिर तक कड़ा रहा. अनिल अग्रवाल को 33 जबकि भीमराव अंबेडकर को 32 वोट मिले. सपा प्रत्याशी जया बच्चन आसानी से जीत दर्ज कर ली. उन्हें कुल 38 वोट मिले. बीजेपी की सहयोगी पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक कैलाश नाथ सोनकर ने भी क्रॉस वोटिंग की है. इस जीत से यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बड़ी रहत मिली होगी.

यूपी के राज्यसभा चुनाव में 400 विधायकों ने मतदान किया था. सूबे की 403 सीटों में एक विधायक के निधन तथा दो विधायकों को जेल में बंद होने की वजह से वोट डालने की अनुमति नहीं मिल सकी.

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के एक विधायक ने भाजपा एजेंट पर वोट फाड़ने का आरोप भी लगाया था. कुछ समय के लिए काउंटिंग रोक दी गयी थी. आरोप था कि नितिन अग्रवाल और अनिल सिंह ने अपने वोट अपने एजेंट को नहीं दिखाए.

राजा भैया पर अंत तक सस्पेंस बना रहा. उन्होंने कहा था कि मैं समाजवादी पार्टी और जया बच्चन को वोट दूंगा, न तो बीएसपी को वोट दूँगा ना ही बीजेपी को वोट दूंगा. हालांकि बाद में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर राजा भैया को समर्थन के लिए धन्यवाद कहा था.

चुनाव के बाद बीएसपी नेता सतीश मिश्रा ने कहा कि बीजेपी ने हारी सीट को ताकत के बल पर जीता. हमारे दो विधायकों को अगवा किया.