Header Ads

योग के प्रसार को समितियां गठित होंगी

bhishm arya patanjali gajraula
भीष्म आर्य ने बैठक में स्पष्ट किया कि हमें योग और आयुर्वेद को घर-घर तक पहुंचाना है.
पतंजलि योग समिति एवं भारत स्वाभिमान ट्रस्ट की मासिक बैठक में जिला एवं तहसील प्रभारियों को आगामी तीस दिनों में 15-15 योग समितियों के गठन का दायित्व सौंपा गया। योगाचार्य रामदेव द्वारा योग को जन-जन तक सुलभ कराने के लिए उनकी सराहना की गयी।

बैठक को सम्बोधित करते हुए जिला प्रभारी भीष्म आर्य ने कहा कि आज का मानव धन कमाने की होड़ में इस प्रकार अंधा हो गया है कि वह भले-बुरे में भेद करना ही भूल गया। इस प्रकार की कमाई का मानवीय मूल्यों पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि योगाचार्य स्वामी रामदेव ने जिस योगदर्शन और आयुर्वेद का ज्ञान जन-जन तक पहुंचाने का काम किया है उसे और भी विस्तार की जरुरत है। शारीरिक और मानसिक संतुलन को बनाए रखने में योग की महत्वपूर्ण भूमिका है।

भीष्म आर्य ने बैठक में स्पष्ट किया कि हमें योग और आयुर्वेद को घर-घर तक पहुंचाना है जिससे हमारे देश के सभी नागरिक स्वस्थ और विवेकशील बन सकें। उन्होंने विस्तार से योग के महत्व पर प्रकाश डाला।

बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रत्येक जिला एवं तहसील प्रभारी अपने-अपने कार्यक्षेत्र में 15-15 योग समितियों का गठन करे। इससे हर घर के हर व्यक्ति तक इसका लाभ सुलभ हो सकेगा। उन्होंने कहा कि स्वामी रामदेव के अथक प्रयास से विश्वभर में लोग योग की ओर आकर्षित हुए हैं तथा उसका लाभ ले रहे हैं।

बैठक में ब्रह्मपाल सिंह, चेतराम सिंह, चन्द्रमोहन बन, धर्मवीर आर्य, मोमराज सिंह, अमरपाल सिंह, ईश्वर सिंह, लल्लू सिंह, विशाल शर्मा, रोहित यादव, अनिता सिरोही, प्रमोद कुमार आदि उपस्थित रहे।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.