Header Ads

'आतिशबाजी अविलम्ब बंद होनी चाहिए, दिवाली का वास्तविक आनन्द तभी मिलेगा' -डॉ. बीएस जिन्दल

doctor bs jindal dhanaura photo
डॉ. बीएस जिन्दल ने कहा है कि दीपावली पर आतिशबाजी अविलम्ब बंद होनी चाहिए.

मंडी धनौरा के जिन्दल हॉस्पिटल के संचालक डॉ. बीएस जिन्दल  जरुरतमंदों के लिए शिक्षा, स्वास्थ्य तथा योग के क्षेत्र में तन, मन और धन से संलग्न हैं। वे हमेशा पर्यावरण के प्रति संवेदनशील रहे हैं तथा स्वच्छता के लिए भी काम करते रहे हैं। उनका कहना है कि पर्यावरण की सुरक्षा प्रत्येक व्यक्ति का दायित्व है। यह हमारी उदासीनता का सबूत है कि सर्वोच्च अदालत को यह आदेश देना पड़ा कि पटाखे कुछ शर्तों के साथ चलाये जाएं।
 डॉ. जिन्दल ने कहा कि केवल वायु ही नहीं बल्कि हमारे पीने का पानी, फल, सब्जियां तथा अनाज तक में जहर घुल रहा है। हमारे सांस लेने से खाने पीने तक की चीजें प्रदूषित हैं। दिल्ली, मुम्बई जैसे महानगरों की हवा सांस लेने लायक भी नहीं रही। हम अपने तथा भावी संततियों के जीवन में जहर घोलने पर आमादा हैं। आतिशबाजी अविलम्ब बंद होनी चाहिए। दीपों की जगमगाती दिवाली का वास्तविक आनन्द तभी मिलेगा। 

दीपावली पर अन्य लोगों के विचार क्लिक कर पढ़ें >>