Header Ads

उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान परेशान, नहीं मिल रहा भुगतान

kisan sugarcane field
किसानों को यह भी पता चल रहा है कि सरकार मिल मालिकों को लगातार रियायतें दे रही है.
गन्ना बिकने के दो सप्ताह में किसानों का भुगतान दिलाने का वायदा कर सत्ता में आयी प्रदेश की योगी सरकार पिछले सत्र का भुगतान भी चीनी मिलों से नहीं दिला पायी। जबकि दो माह के करीब नये सत्र में भी मिलों को चलते हुए होने वाले हैं। उनके भुगतान का अभी कोई पता तक नहीं। यह हाल तो तब है जब लोकसभा चुनाव सिर पर हैं।

किसान प्रदेशभर में जगह-जगह धरना और प्रदर्शन कर भुगतान की मांग कर रहे हैं। इस समय किसानों को रबी की फसल में उर्वरक डालने तथा दूसरे कामों के लिए पैसों की सख्त जरुरत है। बिजली बिल भुगतान और अन्य राजस्वों को जमा करने के लिए सरकार का डंडा किसानों पर चल रहा है।

खाद, बीज, बिजली, कृषि यंत्रों और कीटनाशकों की कीमतें बढ़ाने के बावजूद गन्ने का दाम स्थिर रखे जाने से किसानों में बेचैनी है जिससे किसान सरकार से नाराज होते जा रहे हैं। किसानों को यह भी पता चल रहा है कि सरकार मिल मालिकों को लगातार रियायतें दे रही है और किसान कर्ज माफी की मांग करते हैं तो चन्द किसानों का अधिकतम एक लाख कर्ज माफ कर पल्ला झाड़ लिया जाता है।

किसान एकमुश्त कर्ज मुक्ति की मांग कर रहे हैं। यह हैरतअंगेज़ है कि डबल इंजन की सरकार का कोई सा भी इंजन किसानों की राह आसान नहीं करना चाहता।

~टाइम्स न्यूज़ गजरौला.