घटतौली मिलने पर एफआईआर दर्ज : करीब 3500 गन्ना खरीद केन्द्रों का निरीक्षण किया गया

sugar-mill-pic
82 लिपिक व संबंधित चीनी मिल अध्याशी की जमानत राशि शासन के पक्ष में जब्त कर ली गयी.
गन्ना पेराई सत्र में घटतौली को लेकर खरीद केन्द्रों पर तैनात कर्मचारियों पर कार्रवाई की गयी है। 150 से अधिक कर्मचारियों पर अलग-अलग कार्रवाई की गयी है जिनमें 16 तोल लिपिकों के लाइसेंस निरस्त किए गये हैं।

लिपिकों आदि के खिलाफ निरीक्षण के बाद यह कार्रवाई की गयी है। 2018-19 के गन्ना सत्र के दौरान डीएम, डीसीओ, सहायक चीनी आयुक्त, गन्ना सचिव की टीम ने लगभग 3500 गन्ना खरीद केन्द्रों का निरीक्षण किया था। उन्हें 91 केन्द्रों पर घटतौली मिली जिसमें 75 मामले बाटों की गड़बड़ के थे। जबकि 16 मामले ऐसे पाए गये जिनमें कांटों में त्रुटि मिली। केन्द्र के तौल लिपिक इसके आरोपी थे।

सहायक चीनी आयुक्त सीके वर्मा ने कहा है कि इन कार्रवाईयों में दोनों पक्षों की बात सुनने के बाद 16 लिपिकों के लाइसेंस निरस्त किए जा चुके हैं। 82 लिपिक व संबंधित चीनी मिल अध्याशी की जमानत राशि शासन के पक्ष में जब्त कर ली गयी।

चांदपुर और बरकतपुर चीनी मिलों के सेंटर लिपिक और अध्याशी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गयी है। 12 मामलों में वाद दायर है जबकि 25 मामले ऐसे हैं जिनका फैसला होना है।

-टाइम्स न्यूज़ बिजनौर.

No comments