पोलैंड ने सराहा पर्यावरण सुरक्षा पहल को

jindal-hospital-mandi-dhanaura
शिष्टमंडल का प्रतिनिधित्व जिंदल हास्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ.बी.एस.जिंदल ने किया.
पोलैंड से पहली बार भारत आयीं योअन्ना गाव्र्य्ल्चेक (Gawrylczyk) ने धनौरा नगर में प्लास्टिक थैलों के उपयोग न करने पर ख़ुशी प्रकट की।

पोलैंड में कार्यरत जिंदल हास्पिटल धनौरा के चिकित्सक डॉ. दिलबाग एवं डॉ. राधा के साथ भारत पधारीं 26 वर्षीय योअन्ना ने जिंदल हॉस्पिटल के शिष्टमंडल के साथ उपजिलाधिकारी मांगेराम चौहान से औपचारिक भेंट की।

योअन्ना ने उपजिलाधिकारी से भेंट के दौरान फल व सब्ज़ियों आदि की ख़रीददारी करने पर दुकानदारों द्वारा कागज अथवा कपड़ों के थैले उपयोग करने पर तारीफ़ की। उन्होंने बताया कि यूरोपियन देशों में प्लास्टिक के अतिप्रयोग का अंत बहुत आवश्यक है।
jindal-hospital-dhanaura

उन्होंने उपजिलाधिकारी के द्वारा किये जा रहे वृक्ष और जल संरक्षण के लिये अनोखे एवं कारगर सरकारी प्रयासों के लिये प्रसन्नता ज़ाहिर की।

शिष्टमंडल का प्रतिनिधित्व जिंदल हास्पिटल के प्रबंध निदेशक डॉ.बी.एस.जिंदल ने किया। उनके साथ प्रसिद्ध समाजसेवी एवं अधिवक्ता सर्वेश शर्मा, नवदुर्गा भक्तमंडल के पं.हरीओम त्रिवेदी आदि उपस्थित रहे।

-टाइम्स न्यूज़ मंडी धनौरा.

No comments