चन्द्रपाल सिंह नहीं रहे : किसानों, पिछड़ों और अल्पसंख्यकों में लोकप्रिय थे

chaudhary-chanderpal-singh-amroha
चौ. चन्द्रपाल सिंह का लंबा राजनीतिक जीवन आदर्शवादी और ईमानदार रहा.
वयोवृद्ध समाजवादी नेता चौ. चन्द्रपाल सिंह नहीं रहे। वे आयु के दसवें दशक में भी तेज गर्जना के साथ बोलते रहे तथा अंतिम सांस तक चलते फिरते रहे। चौधरी हमेशा किसानों, अल्पसंख्यकों और पिछड़ों की राजनीति करते रहे। पूर्व प्रधानमंत्री चौ. चरण सिंह उनके आदर्श थे। उनका लंबा राजनीतिक जीवन आदर्शवादी और ईमानदार रहा।

चौधरी चन्द्रपाल सिंह छात्र जीवन से ही राजनीति में सक्रिय हो गये और गन्ना समिति की राजनीति करते-करते प्रदेश स्तरीय राजनीति में सफलता के साथ आगे बढ़ते गये। वे युवा अवस्था से ही निर्भीक और बेधड़क थे, यह जज़्बा उनमें अंत तक कायम रहा।

chaudhary-chanderpal-singh
प्रदेश में कैबिनेट मंत्री से पूर्व वे अमरोहा से सांसद भी रहे। चौ. चरण सिंह की बीकेडी के दौर में जहां वे उनके साथ रहे वहीं उनकी मृत्यु के बाद चौ. अजीत सिंह से मतभेद के बाद वे मुलायम सिंह यादव के साथ आये और तभी से अंत तक समाजवादी पार्टी की मुख्यधारा में जुड़े रहे।

उनके निधन की सूचना से केवल अमरोहा ही नहीं, वरन् समूचे उत्तर प्रदेश में राजनीतिक क्षेत्र में मायूसी है। उनके परिजनों को शोक संवेदनायें मिल रही हैं।

-टाइम्स न्यूज़ अमरोहा.


No comments