गजरौला का लक्ष्मीनगर सील, जमातियों के परिवार को होम क्वारंटाइन किया

lakshmi-nagar-gajraula-pics
पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से लोगों के लिए कई दिशा-निर्देश जारी किए हैं.
दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज़ से लौटे दो जमाती गजरौला में मिलने से मोहल्ला लक्ष्मीनगर सील कर, बाहरी लोगों की आवाजाही रोक दी है। पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से लोगों के लिए कई दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

जमाती दो भाई हैं जो लक्ष्मीनगर स्थित अपने परिवार में रुके थे। दिल्ली पुलिस द्वारा उनके मोबाइल ट्रेस करने पर उनके निवास का पता चला जिसपर स्थानीय पुलिस ने दोनों को पकड़कर जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया है। खून की जांच रिपोर्ट के बाद कोरोना का पता चलेगा।

lakshmi-nagar-gajraula

lakshmi-nagar-gajraula-photos

पुलिस ने जमातियों के घरवालों को होम क्वारंटाइन कर दिया है। वे निश्चित अवधि तक घर से बाहर नहीं निकल सकेंगे। मकान के प्रवेश द्वार पर कोविड-19 का नोटिस चस्पा किया है। एहतियातन लक्ष्मीनगर को बैरियर लगाकर सील कर दिया है, जिससे कोई बाहरी व्यक्ति प्रवेश न कर सके। मोहल्ले में आने-जाने के दो ही मार्ग हैं। एक राजमार्ग-24 तथा दूसरा धनौरा मार्ग से। यहां मोहल्ले के लोग तैनात रहेंगे।

corona-lakshmi-nagar-gajraula

नगर में इस तरह का यह पहला मामला है। जमाती मरकज़ में कोरोना की सूचना पर स्थानीय पुलिस प्रशासन ने सभी मस्जिदों और मदरसों में तलाशी कर जमातियों की धरपकड़ का अभियान चलाया था लेकिन कहीं भी किसी जमाती के ठहरने का पता नहीं चला था। लक्ष्मीनगर में जिस परिवार में जमाती पकड़े गये, वह एक मदरसे तथा मस्जिद से सटा है। हो सकता है जमाती पहले मदरसे में रुके हों, बाद में तलाशी अभियान का पता चलते ही बराबर के घर में चले गये हों। यह जानकारी भी की जानी चाहिए। यदि ये संक्रमित पाये गये तो मदरसे और मस्जिद में रहने वालों की जांच भी जरुरी है।

~टाइम्स न्यूज़ गजरौला (अमरोहा).