शराब की दुकानों का मुद्दा फिर गरमाया : विश्व हिन्दू परिषद और मदीना मस्जिद विरोध में एकजुट

wine-shop-fazalpur
लोगों का आरोप है कि नए स्थान पर दुकानें जाने से माहौल खराब होगा.
नगर के फाजलपुर मोहल्ले में चालू शराब और बीयर की दुकानों का विरोध एक बार फिर शुरु हो गया है। यह विरोध मोहल्ले से दुकानें हटाने के बजाय उनका उसी मोहल्ले की दूसरी दुकानों में स्थानांतरण को लेकर होना शुरु हुआ है। विरोध में विश्व हिन्दू परिषद, मदीना मस्जिद से जुड़े लोग तथा वार्ड सभासद एकजुट हो गये हैं। मामला कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान और मुख्यमंत्री तक पहुंच गया है जिसकी सूचना डीएम को भी दी गयी है। समाचार लिखे जाने तक दुकानें नए स्थान पर जाने के बजय अभी पुरानी दुकानों में ही संचालित हो रही हैं।

विरोध करने वालों को पता चला कि दोनों दुकानें धनौरा रोड पर फाजलपुर में लगभग डेढ़ सौ मीटर पूरब की दुकानों में जाने वाली हैं। मोहल्ले के कई लोग जिनमें पहली दुकानों के मालिक और सभासद मुनरी देवी भी शामिल हैं, इसके खिलाफ हो गये। इन लोगों ने विश्व हिन्दू परिषद के नेताओं के साथ मिलकर डीएम और सीएम को पत्र लिखा, साथ ही कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान से भी शिकायत की। इन लोगों का आरोप है कि नए स्थान पर दुकानें जाने से माहौल खराब होगा। दो धर्मस्थल और एक स्कूल तथा एक अस्पताल उनके निकट पड़ते हैं। ऐसे में दुकानों का तबादला किया जाना खतरनाक होगा।

wine-shop-fazalpur-gajraula
फाज़लपुर में शराब की दुकानों पर मोहल्लें की महिलाओं ने गोबर आदि फेंक कर विरोध दर्ज किया था.

इस तरह की शिकायत करने वालों में विश्व हिन्दू परिषद नेता वीर सिंह भगतजी, लोकेश शर्मा, मदीना मस्जिद के उमर फारुख सैफी, अनवार सैफी, सभासद मनूरी देवी तथा काविन्दर सिंह आदि के नाम शामिल हैं।

उल्लेखनीय है कि यहां से दुकानें बंद कराने को पहले भी महिलायें विरोध में उतरी थीं लेकिन नहीं हट सकीं दुकानें।

wine-shop-pic

जरुर पढ़ें - शराबियों की बहुत हमदर्द है सरकार : गजरौला में विरोध के बावजूद शराब की दुकानें बढ़ीं

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.