कार्ड से राशन ले सकेंगे प्राथमिक स्कूलों के छात्र

primary-schools-india
इन कार्डों के जरिए बच्चों को राशन की दुकान से गल्ला उपलब्ध कराया जायेगा.

प्राथमिक और उच्च प्राथमिक परिषदीय स्कूलों के बच्चों को मध्यकालीन भोजन की व्यवस्था स्कूल बंद चलने के बावजूद सरकार द्वारा जारी रखी जा रही है। इसके लिए उसका तरीका बदल दिया गया है लेकिन नयी प्रणाली कई स्कूलों में अभी सुचारु नहीं हो सकी है। 

ब्लॉक के कई स्कूलों में मौजूद अध्यापकों ने बताया कि वे सभी स्कूलों के कार्ड तैयार कर रहे हैं। उन्हें उनके घर भेजकर राशन उपलब्ध कराने की प्रक्रिया शुरु होगी। इन कार्डों के जरिए बच्चों को राशन की दुकान से गल्ला उपलब्ध कराया जायेगा। साथ ही मसालों और खाद्य तेल आदि के लिए नकद राशि बच्चों के खातों में भेजी जायेगी जिससे घर में भोजन तैयार कर बच्चे खा सकें।


कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बंद चल रहे स्कूलों में बच्चे न पहुंचने से उन्हें घर पर भोजन उपलब्ध कराने को यह नियम बनाये गये हैं। कुछ स्कूलों में मौजूद अध्यापकों ने बताया कि वे कार्ड तैयार कर बांटने वाले हैं जबकि कुछ का कहना था कि वे कार्ड बंटवा चुके। और प्रत्येक बच्चे को 75 रुपये नकद राशि भी मिलनी शुरु करा दी है। जब तक स्कूल खुलेंगे, यही नियम जारी रहेगा। प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूलों में बच्चों को मिड-डे मील की व्यवस्था है।

-टाइम्स न्यूज़़ गजरौला.