शेरपुर-चांदरा के पास का पुल बन चुका, अब चकनवाला के पुल की बारी -राजीव तरारा

rajeev-tarara-khadar
'चकनवाला के पुल निर्माण में आने वाली बाधाओं को दूर कर लिया गया है, जल्द होगा निर्माण'

धनौरा विधायक राजीव तरारा के प्रयास से जहां शेरपुर-चांदरा क्षेत्र में बाहा नाले पर पुल बन चुका है वहीं चकनवाला के पास खादर के बाढ़ क्षेत्र में बसे एक दर्जन गांवों को जोड़ने वाले पुल की तैयारी भी अंतिम चरण में है। विधायक का दावा है कि वे मैराथन भागदौड़ में चिरप्रतीक्षित इस पुल के लिए सभी विभागों से एनओसी लेने में सफल हुए हैं तथा कोरोना प्रकोप के ढलान के बाद पुल निर्माण का काम शुरु करा दिया जाएगा।

शेरपुर-चांदरा क्षेत्र में पुल निर्माण की मांग खादर वासियों द्वारा दशकों से की जा रही थी। यहां के किसानों को खादर से धनौरा आदि जरुरी काम के लिए लम्बी दूरी तथा कठिन मार्गों से आना पड़ता था। बरसात में समस्या विकराल रुप धारण कर लेती थी। कृषि उत्पाद गन्ना, धान, गेहूं आदि को शहर तक ले जाने में भारी दिक्कत और लंबी दूरी का सामना करना पड़ता था। लोग बसपा तथा सपा शासन में भी इस समस्या के निदान की मांग करते रहे हैं लेकिन समस्या जस की तस रही। कोई सुनवाई नहीं कर रहा था। 

kahadar-bridge

विधायक बनते ही राजीव तरारा ने इस दिशा में ठोस कार्रवाई शुरु की। इस क्षेत्र में रुका पड़ा बांध भी उन्होंने संपूर्ण कराया। उसके बाद पुल निर्माण का काम तेजी से शुरु कराया। आज खादर क्षेत्र खासकर चान्दरा के आसपास के हजारों किसान इससे राहत महसूस कर रहे हैं। उनकी लंबी दूरी की दिक्कतें, समय और ईंधन खर्च की बचत हो रही है। 

विधायक राजीव तरारा का कहना है कि वे जन समस्याओं के प्रति जहां संवेदनशील हैं वहीं उनके निराकरण के लिए अपनी सामर्थ्य का भरपूर उपयोग कर रहे हैं। चकनवाला के पुल निर्माण में आने वाली बाधाओं को दूर कर लिया गया है। इसका निर्माण भी कराया जायेगा।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.