सीएफओ वर्मा तथा अधिवक्ता मानसी चाहल की कोशिश से कानूनी गिरफ्त में आयी टेवा

mansi-chahal-gajraula

फाजलपुर, विजय नगर तथा तिगरिया भूड़ में एक-डेढ़ वर्ष में हृदयघात से आधा दर्जन लोगों की मौत हो गयी.

टेवा एपीआई दवा निर्माता बहुराष्ट्रीय कंपनी है। विशाल बजट की इस दवा कंपनी में निर्मित दवायें (जिनका अधिकांश रॉ मैटीरियल विदेशों से आता है) कई देशों को निर्यात की जाती हैं। इन्हें तैयार करने में अपनायी जाने वाली रासायनिक क्रियाओं से विभिन्न गैसों का उत्सर्जन होता है। जिनमें कई गंधहीन अथवा नाम मात्र की गंध फैलाती है। जानकारों का कहना है कि ये स्वास्थ्य के लिए बेहद घातक हैं। यही वजह है कि इस इकाई के आसपास नगर में कैंसर, हृदयघात और फेफड़ों के रोगियों की संख्या कई वर्षों से लगातार बढ़ रही है। इससे सटे फाजलपुर, विजय नगर तथा तिगरिया भूड़ में एक-डेढ़ वर्ष में हृदयघात से आधा दर्जन लोगों की मौत हो गयी जिनमें कई पचास वर्ष से कम आयु के थे। 7 जून की रात नौ बजे कुछ ज्यादा ही परेशानी हुई जब गैस रिसाव धुंध और बदबू के साथ हुआ।

नगर के मुख्य अग्निशमन अधिकारी के. वर्मा तुरंत गाड़ी से टेवा के गेट पर पहुंचे। उन्हें गैस के कारण अंदर नहीं जाने दिया। उन्होंने गाड़ी से फाटक तोड़ने को धमकाया तो प्रबंधतंत्र ने उन्हें अंदर आने को गेट खुलवा दिया। उन्होंने मौके पर जाकर वीडियो तैयार किया जहां गैस रिसाव होता पाया। उन्होंने टेवा के खिलाफ सारी जानकारी एकत्र कर रिपोर्ट तैयार की। उनकी रिपोर्ट पर नौ जनवरी को तत्कालीन धनौरा एसडीएम शशांक चौधरी, मेरठ के डिप्टी डायरेक्टर (टेक्निकल) अनुज शर्मा, असिसटेंट डायरेक्टर इंडस्ट्रीज अनंत सिंह, क्षेत्रीय प्रदूषण नियंत्रण अधिकारी जेपी मौर्य ने भी यहां आकर जांच की उन्होंने फैक्ट्री के आला अफसरों से भी पूछताछ की। अमरोहा के डीएम उमेश मिश्रा ने भी अपनी रिपोर्ट भेजी थी। यहां से बसपा सांसद कुंवर दानिश अली ने भी संसद में प्रदूषण का मुद्दा उठाया था।

इसपर उत्तर प्रदेश नियंत्रण बोर्ड ने भी टेवा को नोटिस भेजा था। इसी के साथ अधिवक्ता मानसी चाहल का यह मामला एनजीटी कोर्ट में ले गयी थी। जिस पर कोर्ट पूछताछ कर रहा है।

टेवा एपीआई के एसोसिएट डायरेक्टर ए.के. सिंह का कहना है कि उन्हें कोर्ट में चल रही सुनवाई के बारे और गैस रिसाव के बारे में कोई जानकारी नहीं है। गौरतलब है कि ए.के. सिंह जे.के. फार्मा से रीजेंट ड्रग्स तथा उसके बाद टेवा एपीआई बनने तक के सफर में शुरु से विभिन्न पदों पर सेवा देते आ रहे हैं।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.