खुश मिजाज शख्सियत गुन्नू सिंह यादव नहीं रहे

गुन्नू सिंह यादव

गुन्नू सिंह यादव लंबे समय से गले के कैंसर का रोग था. वे अंतिम समय तक लोगों से सामान्य ढंग से बात करते रहे.

वरिष्ठ सपा नेता और यादव महासभा अमरोहा के संरक्षण गुन्नू सिंह यादव नहीं रहे। वे 84 वर्ष के थे। उन्होंने रविवार की शाम को नश्वर काया त्याग दी और परम तत्त्व में विलीन हो गए। उन्हें लंबे समय से गले के कैंसर का रोग था। वे अंतिम समय तक लोगों से सामान्य ढंग से बात करते रहे। वे बहुत ही हास्य विनोदी स्वभाव के व्यक्ति थे। वे अपने मूल गांव से यहां टीचर कालोनी में आकर बस गये थे जहां उनका निधन हुआ। वे अपने पीछे कई पुत्रों, उनकी पत्नियों और पौत्र-पौत्रियों का भरापूरा परिवार छोड़ गये हैं। उनका पौत्र सचिव यादव सपा का नगर अध्यक्ष है।

देर रात गंगाधाम तिगरी में उनका अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस मौके पर नगर तथा आसपास के अनेक लोग मौजूद रहे जिनमें पूर्व सपा जिलाध्यक्ष डॉ. जितेन्द्र यादव, सपा जिलाध्यक्ष निर्मोज यादव, पूर्व विधायक अशफाक खां, बसपा नेता चौ. बलवीर सिंह, बसपा नेता देवेन्द्र गुड्डू, सपा नेता जगराम सिंह, सपा नेता उमर फारुख सैफी, विपिन कौशिक, चौ. राजेन्द्र सिंह, पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष रोहताश शर्मा, सपा नेता आलोक भारती, देशवीर सिंह चाहल, अब्दुल सलाम, यशपाल सिंह, जिताम्बर यादव, अमित चौधरी, अरविन्द यादव और राम रक्षपाल आदि मौजूद थे।

थाना चौक स्थित उनकी दुकान पर गुन्नू सिंह यादव के पास बहुधा राजनैतिक, सामाजिक तथा पत्रकारिता से जुड़े लोग आते-जाते हुए उनकी हास्य-विनोद से भरपूर लेकिन ज्ञानवर्धक बातों को सुनना पसंद करते थे। वे पुराने समाजवादी थे। पूर्व मंत्री स्व. रमाशंकर और सपा नेता मुलायम सिंह यादव से उनके करीबी और वैचारिक संबंध थे।

-टाइम्स न्यूज़ गजरौला.