आजाद सिंह का चयन लेफ्टिनेंट के लिए, दादा और पिता भी हैं युद्धवीर सैनिक

आजाद सिंह का चयन लेफ्टिनेंट

चौखट गांव निवासी आजाद सिंह का चयन सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर हुआ है। उन्हें राष्ट्रीय अकादमी की ओर से ट्रेनिंग का पत्र प्राप्त हो गया है। इससे उनके परिवार, रिश्तेदारों तथा शुभचिंतकों में हर्ष की लहर दौड़ गयी। उनके घर बधाई तथा मिठाई देने वालों का तांता लगा है। यह गर्व की बात है कि इस परिवार की लगातार तीसरी पीढ़ी में देश सेवा का जज्बा जारी है। आजाद सिंह के पिता नरेन्द्र सिंह आर्मी में हवलदार मेजर के पद पर तैनात हैं। उन्होंने 1999 के कारगिल युद्ध में भाग लिया और दुश्मन को मुंह तोड़ जबाव दिया जबकि उनके दादा धर्मपाल सिंह सेना से सेवानिवृत्त हो चुके। उन्होंने 1965 तथा 1971 के युद्धों में भाग लेकर देश की सुरक्षा की।

आजाद सिंह ने एनडीए की परीक्षा पास की थी। उन्हें ब्रहस्पतिवार को एनडीए खड़गवासला पुणे से ट्रेनिंग के लिए पत्र मिला। वे जल्दी ही वहां ज्वाइन करेंगे। उन्होंने अपनी शिक्षा राष्ट्रीय मिलिट्री स्कूल अजमेजर से पूरी की है। उनकी सफलता पर उनके दादा तथा पिता गर्वित हैं। उन्हें इस बात पर गर्व है कि उनके परिवार की तीसरी पीढ़ी का युवक भी उनकी तरह देश सेवा को समर्पित है। इससे गांव और क्षेत्र का भी गौरव बढ़ा है। वास्तव में सैनिक पृष्ठभूमि और दादा तथा पिता के सानिध्य ने आजाद सिंह को भी देश सेवा के लिए प्रेरित किया।

-टाइम्स न्यूज़ मंडी धनौरा.